Central Board of Secondary Education Question Paper for Hindi subject are given below.

Examination: Summative Assessment I (SA1)
Class: IX
Subject: Hindi

CBSE 2015 – 2016 Class 09 SA1 Question Paper – Hindi


CBSE 2014 – 2015 Class 09 SA1 Question Paper – Hindi






CBSE 2013 – 2014 Class 09 SA1 Question Paper – Hindi

निर्देश :-

  1. इस प्रश्न -पत्र कं चार खंड हे – क, ख, ग और घ
  2. चारों खण्डी कं प्रश्न के उतर देना अनिवार्य है
  3. यथासंभव प्रत्येक खण्ड के उतर क्रमानुसार दीजिए
 Question Marks
 खण्ड-‘क’
1. निग्नलिखित गधांश को ध्यानर्मूक पढकर पूछे गए प्रश्नो के लिए सही  विकल्प चुनकर लिखिए: गाँधीवाद का प्रासंगिक लेना संशय कं दायरे में न कभी रहा है और न हो कभी रहेगा । गाँधीवाद की सार्थकता आज समय की कसौटी पर खरी उतर रही है । गांधीजी ने अपने जीवनकाल में सत्थ एवं अहिंसा को सर्वोपरि स्थान देकर यह सिध्द कर दिया कि इस विचार में अपार शक्ति है. तभी तो अंग्रेजों ने भी उनका लोहा माना और अंतत:भारत छोड़ने पर विवश हुए |गाँधीजी ने अपनी वात मनवाने कं लिए कभी दूसरों क्रो सताने की बात न सोच अपनी काया को ही तकलीफ देने का विचार दिया । वर्तमान में प्रचलित भुख-हड़ताल गांधीजी की ही देन है । ये कहा करते थे कि स्वयं इतना कष्ट सहो कि लोगों को तुम्हारी बात मानने कं लिए विवश होना पडे । आज के  समय में रेल, बस जला देने तथा बाजारों में तोड़-फोड को अपनी मांगे मनवाने का माध्यम माना जा रहा है । गंरेंधीजी अपनी माँगों कं लिए अमानवीय दबाव डालने को गलत मानते थे । यह प्रवृतित्त गाँधीवादी सिद्धांतो के विपरीत है । गांधीजी ने सदाचार को सदैव अपना मुख्य हथियार बनाया । उनकें अनुसार अच्छे आचरण तथा विचारो से शत्रु को भी अपने गुप्त-मित्रों की सूची में शामिल किया जा सकता है। गाँधीजी विकेर्द्रीकरण को सर्वोपरि मानते थे। उनकें अनुसार यदि भारत का नवनिर्माण करना है तो विकेर्द्रीकरण को अपनाना होगा । ग्रामीण अर्थव्यवस्था में शोषण कं लिए कोई स्थान नहीं होना चाहिए । गाँधीजी शोषण को एक प्रकार की हिंसा ही मानते थे । इसके साथ ही गाँधीजी ने उत्पादन का उददेश्य उपभोग को माना, न कि बाजार के विस्तार को। गांधीजी ने उपभोग कं लिए अनिवार्य वस्तुओं के संदर्भ में आत्मनिर्भस्ता पर बल दिया । उनका मानना था कि आत्मनिर्भस्ता से आवश्यक्ता पूर्ति कं साथ-सस्थ्य समग्र बिकास की प्रक्रिया को प्राप्त किया जा सकता है। उद्योगपतियों कं अमीर होने तथा शोषण से जुड जाने को महात्मा गाँधी ने एक आर्थिक दोष माना । उन्होने कहा था कि उद्योगपतियों को अमीर बनाने में महत्त्वमूर्ण भुमिका का निर्वहन स्वयं समाज ने किया है । हमारे द्वारा क्रय किए जाने बाले उत्पादों से उनकी यह स्थिति बनी है. अत उन्हें अपने सामाजिक दाइत्व पर भी विचार करना चाहिए आज भारत को गांधीवादी विचारो द्वारा ही विश्व-शक्ति बनाया जा सकता है 1 समाज, राजनीति तथा अर्थव्यवस्था में गांधीजी की नीतियों का प्रतिपादन कर सब प्रकार की विषमता का अंत संभव है ।

1. संशय के दायरे में कभी नहीं रही है।

(क) समय की कसौटी (ख) गाँधीवाद की प्रासंगिकता (ग) नेहरू का नवभारत निर्माण (घ) आत्मनिर्भरता की आवश्यकता

2. कौन-से विचार में अपार शक्ति छिपी हुई है

(क) सत्य एवं अहिंसा संबंधी (ख) भूख-हड़ताल संबंधी (ग) अमानवीय दबाव डालने संबंधी (घ) उपरोक्त में से कोई नहीँ

3. गांधीजी ने किसे अपना मुख्य हथियार बनाया

(क)हडताल को (ख) गाँधीवादी सिद्धांत को (ग) सदाचार (घ) स्वाभिमान को

4. भारत कं नवनिर्माण के लिए गाँधी जी किस बात पर जोर देते थे ?

(क)  विकेर्द्रीकरण पर (ख) उत्पादन बढाने पर (ग) उपभोग पर (घ) इनमें से कोई नहीं

5. गाँधी जी के अनुसार, उत्पादन का उददेश्य क्या होना घाहिए ?

(क) उपभोग (ख) बाजार का विस्तार (ग) आत्मनिर्भस्ता (घ) समग्र विकास की प्रक्रिया

6. गाँधी जी किसके सामाजिक दाइत्व  पर विचार करने की बात करते है ?

(क) अमीरों के (ख) गरीबों के (ग) नेताओं के (घ) नौकरशाहों ले

7. सब प्रकार की विषमता का अंत किससे संभव है?

(क) गाँधीजी कं सत्य एवं अहिंसा से (ख) गाँधी जी के अर्थव्यवस्था संबंधी सिधांत से (ग) गाँधीजी की नीतियों के प्रतिपादन दो (घ) गाँधी जी के सत्याग्रह से

8. वर्तमान में प्रचलित भूख-हड़ताल का तरीका किसकी देन है?

(क) अंग्रेजो की (ख) गाँधीजी की (ग) भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों की (घ) भारतीय संविधान निर्माताओं की

9. शत्रु को भी गुप्त मित्रो की सूची में कैसे शामिल किया जा सकता है

(क) अच्छे आवरण (ख) अच्छे विचारो से (ग) क और ख  दोनों से (घ)  इनमे से कोई नहीं

10. गॉधी जो कं अनुसार, आवश्यकता पूर्ति कं साथ-साथ समय विकास की प्रक्रिया को कैसे प्राप्त किथा जा सकता है

(क) उपभोग से (ख) उत्पादन से (ग) आत्मबल से (घ) आत्मनिर्भता से

11. गांधीजी शोषण को क्या मानते थे ?

(क) अत्याचार (ख) गलत व्यहवार (ग) हिंसा (घ) अमीरों की कुंजी

12. प्रस्तुत गद्यांश का उपयुक्त शीर्षक क्या हो सकता है ?

(क) महात्मा गाँधी (ख) गाँधीजी के विचार (ग) सत्य एवं अहिंसा की नीति (घ) ग्रामीण अर्थव्यवस्था

 1×12=12
2. निग्नलिखित पचांश को ध्यानपूर्वक पढकर पूछे गए प्रश्नो के लिए सही विकल्प चुनकर लिखिए :यह जीवन क्या है ? निर्झर है, मस्ती ही इसका पानी हैसुख-दुःख के दोनों तीरों से, चल रही राह मनमानी हेकब फूटा गिरि कं अंतर से, किस अंचल से उतारा नीचे?

किस घाटी से बहकर आया, समतल में अपने को खींचे ?

निर्झर में गति है, यौवन हे, यह आगे बढ़ता जाता है

घुन एक सिर्फ है चलने की, अपनी मस्ती में गाता है

बाबा के घोडों से लड़ता, बन के पेडों से टकराता

बढता चटानो पर चढ़ता, चलता यौवन से मदमाता

लहरें उठती हैं, गिरती हैं, नाविक तट पर पछताता है

तव यौवन बढ़ता है आगे, निर्झर बढ़ता ही जाता है

कवि कं अनुसार जीवन केसा है ?

1. (क) पानी कं सामान (ख) राह के समान (ग) नस्ती कं समान (घ) झरने कं त्तपान

2. जीवन में सुख और दुख किसके समान है

(क) तीर (तट) के समान (ख) गिरि (पहाड़) के रामान (ग) राह (रास्ते) के समान (घ) समतल कं समान

3. निर्झर में क्या है ?

(क) यौवन (स) मस्ती एवं गति (ग) यौवन एवं गति (घ) गति

4. निर्झर यौवन के कारण किस प्रकार चलता है ?

(क) मदमाता हुआ (ख) टकराता हुआ (ग) चढता हुआ (घ) लड़ता हुआ

5. लहरों कं उठने गिरने का संबंध है

(बा) पानी से (ख) नाविक से (ग) जीवन कं उतार-चढाव से (घ) यौवन के बढ़ने से

6. निर्झर की घारा कहाँ से फुटती है ?

(क) पहाड़ कें आंतरिक भाग से (ख) पृथ्वी कं हदय से (ग) नदी से (घ) सागर से

7. निर्झर की सिर्फ एक ही घुन कौन-ली हैं?

(क) निरंतर गीत गाते रहने की (ख) निरंतर सबकी प्यास बुझाने की

(ग) निरंतर आगे बढ़ते रहने की (घ) निरंतर सब कुछ समतल करने की

8. निर्झर को देखकर किनारे पर खडा कौन पछताता हैं

(क) सागर (ख) नदी (ग) पहाड़ (घ) नाविक

  1×8=8
 खण्ड-‘ख’
3. (क) निग्नलिखित शब्दों का वर्ण-दिच्छेद कीजिए :             अनुकरणीय, उत्कर्ष, पराक्रम, लघु(ख) निग्नलिखित शब्द में ‘र’ का उचित प्रयोग करे :               बेशम, कार्यक्रम 21
4. (क)  निग्नलिखित अनुस्वार का उचित प्रयोग करें ।  खन्जन. इन्जन(ख) निग्नलिखित शब्दों में नुक्ता का उचित उपयोग करें । फौलाद. कासिद 11
5. (क) निग्नलिखित शब्दों में उपसर्ग तथा प्रत्यय अलग-अलग करले लिखें । सुनील. अमात्व, निराकार, लघुता(ख) निग्नलिखित में प्रयुक्त उपसर्ग बत्ताऐं । लाजबाव, बेगुनाह 21
6. (क) व्यंजन संधि को परिमापित करते हुए एक उदाहरण दीजिए ।(ख) निग्नलिखित शब्दों का संघि-विच्छेद कीजिए (1) वाड्मय (2) उद्धार 11, 2
7. निग्नलिखित वाक्यों में उचित विराम चिन्हों का प्रयोग कीजिए(क)   नहीं यह नही हो सकता(ख)  पानी हमारा जीवन है हवा प्राण है और अन्म शक्ति है(ग)   हानि-लाभ, यश-अपयष्टा सव भाग्य पर निर्भर है 3
 खण्ड-‘ग’
8. निग्नलिखित प्रश्तों तो उतर संक्षेप में दीजिए(क) बुढिया के बेटे की मृत्यु के कारणों को स्पष्ट करे |(ख) एवरेस्ट अभियान कं दौरान मृत्यु के अवसाद को सभी लोगों के चेहरे पर देखकर कर्नल खुलर ने क्या कहा?

(ग)  ‘अतिथि तुम कब जाओगे’ पाठ के लेखक ने अतिथि का स्वागत कैसे किया ?

 1+2+2=5
9. बालक्रिशन के मुँह पर घाई गोधूलि को लेखक श्रेष्ठ क्यों मानता है ?अथवागरीब लोगों के लिए बेटा, बेटी, खसम-लुगाई, धर्म-ईमान सब रोटी का टुकडा हैँ-ब्वसकं माध्यम से लेखक क्या चाहता है ? स्पष्ट करें ।
10. निग्नलिखित गधांश को ध्यानर्मूक पढकर पूछे गए प्रश्नो के उतर दीजिये: शिशु भोलानाथ के संसर्ग से तो ‘ मेले जो करत गात ‘ की नोबत आई, अखाडे की मिदृटी में सनी हुई देह से तो कही उबकाई ही आने लगे | जो बचपन ने धूल से खेला है, वह जवानी गें अखाडे की मिदृटी में सनने से केसे वंचित रह सकता है ?रहता है तो उसका दुर्भाग्य है और क्या ! यह साधारण धूल नहीं है. वरन् तेल और मठे से सिझाई हुई वह मिदृटी है. जिसे देवता पर चढाया जाता है । संसार में ऐसा सुख दुर्लभ है । पसीने से तर बदन पर मिदृटी ऐसे फिसलती है, जैसे आदमी कुआँ खोदकर निकला हो । उसकी माँसपेशियाँ फुल उठती हैं. आराम से वह हरा होता है, अखाडे में निर्हद्व चारों खाने चित लेटकर अपने को विश्व-विजयी लगाता है । मिटटी उसर्क शरीर को बनाती है क्योंकि शरीर भी तो मिटटी का ही बना हुआ है |

(1) पसीने से तर बदन पर मिटटी किस प्रकार फिसलती है ? 1

(2) आदमी कब अपने को विश्व-विजयी समझता है ? 2

(3) लेखक के अनुसार शरीर मिटटी का बना है ? क्या आप लेखक के कथन से सहमत है ? 2

अथवा

लड़के की बुढिया मों बावली होकर ओझा को बुला लाई । झाडना-फूंकना हुआ । नामदेव की पूजा हुई । पूजा के लिए दान-दक्षिणा चाहिए । घर में जो कुछ आटा और अनाज था. दान- दक्षिणा में उठ गया । माँ. बहू और बच्चे “भगवाना’ से लिपट-लिपटकर रोए. पर भगबाना जो एक दर्फ चुप हुआ तो फिर न बोला । सर्प र्क विष से उसका सब बदन काला पड़ गया था |

जिंदा आदमी नंगा भी रह सकता है, परंतु मुर्दे को नंगा कैसे विदा किया जाए उसके लिए तो बजाज की दुकान से नया कपडा लाना ही होगा, चाहे उसर्क लिए माँ कै हाथों के छन्नी-ककना हीं क्यों न बिक जाएँ !

(1) अपने लड़के को बचाने के लिए बुढियॉ ने कोन-कोन से प्रयत्न किए ? 2

(2) भगवाना जो एक दफे घुप हुआ तो फिर न मोला” इस कथन का क्या आशय है ? 1

(3) मुदे को नंगा न विदा करना और जिंदा आदमी को नंगा देखते हुए भी सहानुभूति न होना कैसी सामाजिक परंपरा है ? तर्कपूर्ण उतर देते हुए समझाइये |

11. निग्नलिखित प्रश्नों कं उतर संक्षिप्त में दीजिए :(1) रहीम ने की अपेक्षा पंक जल को अधिक मठत्नपूर्ण क्यों माना है ?(2) कवि रैदास की पंक्ति ‘जाकी जाति बरे दिन राती’ का आशय क्या है ? स्पष्ट करे !(3) दोहा को ‘गागर में सागर’  क्यों कहा जाता है ?   2+2+1=5
12. रेदास कवि की भक्ति को किस प्रकार की भक्ति कही जा सख्ती है ? स्पष्ट कीजिए ।अथवारहीम कबि दो दोहे नीतिपरक हैं. सोदाहरण स्पष्ट करे !  5
13. मनुष्य का अनुमान और भावी योजनाएँ कभी-कमी कितनी मिथ्या और उलटी निकलती हैं- इस पंक्ति का अभिप्रायस्पष्ट कीजिए !अथवाकैलास शहर कै जिलाधिकारी ने लेखक को आलू की खेती के विषय मॅ क्या जानकारी दी ?  5
 खण्ड-‘घ’  5
 14. निग्नलिखित विषयों में से किसी एक विषय पर दिए गए संकेत बिन्दुओं के आधार पर 80 से 100 शब्दों में अनुछेद लिखिए ।(1) छात्र-समुदाय में बढता फैशनसंकेत बिंदु

  • फैशन का अर्थ
  • फैशन का महत्व
  • फैशन के तहत अंधानुकरण की पर्वर्ति

(2) युवा पीढी के कर्त्तव्य

संकेत बिंदु

  • भुमिका
  • देश का भविष्य: युवा वर्ग
  • देश कं प्रति दायित्व

(3) शहरों में ट्रेफिक जाम की समस्या

संकेत बिंदु

  • वाहनों की बढ़ती भीड
  • रास्तो पर अवैध कब्जे
  • ट्रेफिक नियमों के प्रति उदासीनता
15. होली की शुभकामनाएँ देते हुए अपने करीबी मित्र को पत्र लिखिए ।अथवाअपनी माँ को पत्र लिखते हुए उन्हें आश्वस्त कीजिए कि आप उनके सपनों को साकार करेंगे  5
16. अधोलिखित चित्र का वर्णन 20 से 30 शब्दों में कीजिए  5
17. अपने जनादिन पर अपने मित्र या सहेली से उपहार स्वीकार करते हुए उससे होने वाले संवाद को लगभग 50 शब्दों में लिखिए ।  5
18. इलेवट्रॉनिक सामान बनाने वाली कंपनी की और से अपने यहॉ कर्मचारियों की भर्ती के लिए दिए जाने वाले विज्ञापन को 20 से 25 शब्दों में लिखिए ।  5

Click Here for All CBSE Class 09 SA1 Question Papers Sample Papers

Advertisements

comments